• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

बिज़नेस

एयरबस का एशिया में पहला प्रशिक्षण केंद्र खुलेगा

By Raj Express | Publish Date: 3/18/2017 4:36:12 PM
एयरबस का एशिया में पहला प्रशिक्षण केंद्र खुलेगा
नई दिल्ली। फ्रांसीसी विमान निर्माता कंपनी एयरबस पायलटों तथा एयरक्राफ्ट मेंटेनेंस इंजीनियरों के लिए एशिया का अपना पहला प्रशिक्षण केंद्र दिल्ली हवाईअड्डे के पास खोलेगा। नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने तथा एयरबस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टॉम एंडर्स ने इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे के पास इसका शिलान्यास किया। केंद्र का निर्माण कार्य अगले साल के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है। यहां शुरुआत में दो फुल फ्लाइट सिम्युलेटर लगाये जायेंगे में हर साल 800 पायलटों तथा 200 एएमई को विमान विशेष का प्रशिक्षण दिया जा सकेगा। एयरबस ने इसके लिए दिल्ली अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड से 1.1 एकड़ जमीन 31 मार्च 2036 तक लीज पर लेने के लिए गुरुवार को एक करार किया था। भारतीय विमानन उद्योग तेजी से बढ़ रहा है तथा इसमें विकास की काफी संभावना है। इसके लिए बड़ी संख्या में कौशल विकास की भी जरूरत होगी। उन्होंने कहा कि एयरबस ने सही दिशा में कदम बढ़ाया है। एयरबस को देश में विमानों के रखरखाव, मरम्मत तथा ओवरहॉल की दिशा में भी पहल करनी चाहिये। सिर्फ विमान निर्माण कारोबार में एयरबस एयरबस सिर्फ विमान निर्माण कारोबार में है तथा एमआरओ के क्षेत्र में कदम रखने का उसका कोई इरादा नहीं है। कंपनी अपने ग्राहक एयरलाइंसों को अभी भी सहयोगी एमआरओ कंपनियों के माध्यम से एमआरओ सुविधा उपलब्ध करा रही है तथा एमआरओ क्षमता विकास में मदद के लिए वह तैयार है। विस्तारा ने एयरबस इंडिया ट्रेनिंग सेंटर में पायलटों के प्रशिक्षण के लिए पांच साल का करार किया है।  
Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus