• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

दिग्गजों के गढ़ में भाजपा नेता ने उठाए पुलिस-प्रशासन की क्षमता पर सवाल

By Raj Express | Publish Date: 1/25/2017 11:44:12 AM
दिग्गजों के गढ़ में भाजपा नेता ने उठाए पुलिस-प्रशासन की क्षमता पर सवाल

भोपाल, (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के गढ़ माने जाने वाले विदिशा जिले की कानून-व्यवस्था पटरी से उतर गई है। पिछले कुछ महीनों में हत्या, उपद्रव, बलबे जैसे घटनाक्रमों से विदिशा कानून-व्यवस्था को लेकर चर्चा में रहा है। 

अब जिले में मप्र पुलिस के तेजतर्रार और ईमानदार अधिकारी गौरव तिवारी की मांग उठने लगी है। भाजयुमो के जिलाध्यक्ष दीपक तिवारी ने जिले की पुलिस और प्रशासनिक क्षमता पर सवाल उठाते हुए कानून-व्यवस्था की पोल खोली है। उन्होंने अपने फेसबुक वॉल पर लिखा है कि पूरा जिला आतंक के साए में है। तिवारी ने चर्चा में कहा कि पूरे जिला नशे का कारोबार बन गया है। 
जिस पर अंकुश लगाने में पुलिस पूरी तरह से नाकाम है। उन्होंने मार्च 2013 से विदिशा में पुलिस अधीक्षक की जिम्मेदारी संभाल रहे धर्मेन्द्र चौधरी की कार्यप्रणाली पर भी सवाल खड़े किए है। बतौर भाजपा नेता नशे की वजह से जिले में हत्याएं हो रही हैं। बेवजह युवा मारे जा रहे हैं। पूरा जिला आतंक के साऐ में है। अब जिले को गौरव तिवारी जैसे एसपी की जरूरत है। तिवारी ने फेसबुक वॉल पर लिखा संपूर्ण विदिशा जिला आतंक के साए में। जिले में आए दिन हत्याएंं हो रहीं हैं। पहले बासौदा अब विदिशा पूरे जिले की स्थिति चिंताजनक है।
 प्रशासन पूर्णत: असहाय हैं। नशा का कारोबार चरम पर हैं। जगह-जगह अवैध रूप से हर तरह का नशा उपलब्ध हैं। बासौदा में भी यही कारण था धीरे-धीरे विदिशा सहित पूरे जिले में यही स्थिति है। नशे से आदमी की मानसिक स्थिति पूर्णत: खराब हो जाती है । पाउडर, टिकिट जैसे नाम से नशा लिया जाता हैं। शांति अमन के इस जिले में किसी की नजर लग गई। नशे के खिलाफ सबको एकजुट होने की जरुरत हैं।
 अब यहां गौरव तिवारी जैसे पुलिस अधिकारी की जरूरत हैं। मन बड़ा व्यथित हैं। यहां बता दें कि विदिशा से केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज सांसद हैं और खुद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का चुनाव क्षेत्र रहा हैं। यह भाजपा का गढ़ हैं। राज्यमंत्री सूर्यकांत मीणा भी विदिशा से ही आते हैं। 
Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus