• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

पीएचई प्रोजेक्ट के स्टॉफ की खुलने लगी...

By Raj Express | Publish Date: 2/27/2017 11:19:30 AM
पीएचई प्रोजेक्ट के स्टॉफ की खुलने लगी...

ग्वालियर। शहर में सीवर के पानी को नाले से निकालने के लिए दो पंपिग स्टेशन बने हुए हैं। इनका संचालन पीएचई प्रोजेक्ट के कर्मचारी करते थे। इनकी ड्यूटी24घंटे के लिए थी,लेकिन पंपिग स्टेशन पर मात्र10घंटे ही काम होता था। मिलीभगत के चलते कम कर्मचारियों की ड्यूटी पंप पर लगाई जाती थी। बाकी बचे14घंटों तक पंप बंद रहते,जिससे सीवर का पानी लाइनों में वापस आ जाता था। यह खुलासा पीएचई प्रोजेक्ट के सागर शिफ्ट होने के बाद हुआ है।31मार्च के बाद पीएचई प्रोजेक्ट की लाइनें नगर निगम द्वारा साफ कराई जाएंगी। पीएचई प्रोजेक्ट के तहत शहर में700किलोमीटर लंबी सीवर लाइनों की सफाई का कार्य किया जाता था। इसके लिए 250 कर्मचारियों का स्टाफ था, लेकिन अधिकतर सफाई का कार्य ठेके पर कराया जाता। कर्मचारियों की ड्यूटी पंपिग स्टेशन एवं सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट पर लगाई जाती थी। इसमें कर्मचारियों को8-8घंटे की ड्यूटी लगाना बताई जाती और24घंटे पंप का संचालन होना बताया जा रहा था। लेकिन हकीकत में मात्र10घंटे ही पंपिग स्टेशन कार्य करते थे। इसके बाद इन्हें बंद करके स्टाफ घर चला जाता था। ड्यूटी के नाम पर कर्मचारियों को वेतन निकल रहा था। इसी तरफ सफाई कार्य भी5करोड़ रुपए की राशि से ठेके पर किया जाता था।14घंटे तक सीवेज प्लांट पर पंपिग न होने से पानी वापस लाइनों में आ जाता था, जिससे सीवर लाइनें चौक रहती थीं। लेकिन अब यह समस्या नहीं रहेगी। नगर निगम के हैण्ड ओवर होने के बाद31मार्च से पंपिग स्टेशन24घंटे संचालित रहेंगे। 

कर्मचारियों के बीच बांट दिए कार्य

निगमायुक्त अनय द्विवेदी ने पीएचई प्रोजेक्ट के लिए कर्मचारियों की ड्यूटी लगा दी है।32लोग पंपिग प्लांट चलाएंगे,यह दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी रहेंगे। साथ ही22मुख्य कर्मचारी हैं,जो गहरी सीवर लाइनें साफ करते हैं। इनसे पीएचई प्रोजेक्ट के अधिकारी ठेके पर काम कराते थे। इसी तरह नगर निगम भी लाइनें साफ कराएगा। 

Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus