• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

अधूरे मकानों के साथ हुई कादम्बरी नगर की शुरुआत...

By Raj Express | Publish Date: 2/27/2017 11:55:15 AM
अधूरे मकानों के साथ हुई कादम्बरी नगर की शुरुआत...

ग्वालियर। गृह निर्माण मंडल की कादम्बरी नगर योजना का काम शुरू हो गया है। इस योजना की शुरुआत अधूरे मकानों के साथ हुई है। लगभग पौने दो सौ मकान निर्माणाधीन हैं। इस परियोजना में अभी लगभग एक सैकड़ा मकानों की बुकिंग होना शेष हैं। यह मकान बड़ी राशि वाले हैं। इन मकानों के लिए मंडल को ग्राहक नहीं मिल रहे हैं। गौरतलब है कि कादम्बरी नगर योजना गृह निर्माण मण्डल की तीव्र गति से शुरू होने वाली योजना है। एक साल के अन्दर इस योजना में भवनों का निर्माण शुरू हो चुका है। उम्मीद जताई जा रही है कि आगामी दो साल के अन्दर सभी भवन बनकर तैयार हो जाएंगे।

कुल भवनों की संख्या-273
बड़े मकानों के नहीं मिल रहे खरीदार
कादम्बरी नगर योजना में बनाए जा रहे बड़े भवन मेडल के अधिकारियों के लिए मुसीबत बन गए हैं, क्योंकि मेडल को इन भवनों के खरीददार नहीं मिल रहे हैं। यह भवन 23 लाख रुपए से अधिक राशि वाले हैं। 
नोटबंदी का असर
हाउसिंग बोर्ड के बड़े मकानों के खरीदार न मिलने का सबसे बड़ा कारण नोटबंदी को माना जा रहा है। स्वयं हाउसिंग बोर्ड को अधिकारियों का कहना है कि उनके भवन खड़े-खड़े बिक जाते,लेकिन नोटबंदी के कारण लोग खरीद नहीं पा रहे हैं। 
फायनेंस पर निर्भर हैं खरीदार
गौरतलब है कि हाउसिंग बोर्ड के जिन लोगों ने छोटे मकान लिए हैं वह भी बैकों पर पूरी तरह निर्भर हैं। उनके द्वारा बैक से फायनेंस कराकर मकानों की राशि की किश्तें अदा की जा रही हैं तथा वह लोग बैंक के ब्याज को भी भरेंगे तब कहीं जाकर वह मकान के स्वामी बनेंगे।
इनका कहना
योजना प्रगति पर है,जल्द ही सभी मकान बनकर तैयार हो जाएंगे। इस साल यह योजना पूरी होने की संभावना है। बड़े भवन भी जल्द ही बिक जाएंगे।
महेन्द्र सिंह,उपायुक्त,हाउसिंग बोर्ड,ग्वालियर
एक नजर में कादम्बरी नगर योजना
योजना का क्षेत्रफल-9 एकड़
योजना की लागत-32 करोड़ 52 लाख रुपए
यहां बनने वाले भवनों की 
कुल संख्या
एमआईजी डीलक्स-19एमआईजी सीनियर-42एमआईजी जूनियर-79एलआईजी-80ईओडब्ल्यू-53
Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus