• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

मप्र में लगेंगे आठ हजार नए हैंडपंप

By Raj Express | Publish Date: 3/10/2017 4:03:41 PM
मप्र में लगेंगे आठ हजार नए हैंडपंप

 भोपाल। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी एवं जेल मंत्री कुसुम महदेले ने कहा कि प्रदेश में आठ हजार नए हैंडपंप लगेंगे। मुख्यमंत्री ने यह हैंडपंप लगाने की अनुमति उन्हें दी है। उन्होंने कहा कि अगले वर्ष तक सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में पेयजल उपलब्ध करा दिया जाएगा। विभाग से संबंधित अनुदान मांगों पर हुई चर्चा का जवाब देते हुए मंत्री कुसुम महदेले ने बताया कि पीएचई में जो ठेका जिस ठेकेदार को मिलेगा, वह ठेकेदार अगले पांच वर्ष तक मेंटनेंस का काम भी करेगा। उन्होंने बताया कि एक लाख 5 हजार से अधिक बसाहटों में प्रतिदिन 55 लीटर के हिसाब से पानी दिया जा रहा है। सतही जल स्त्रोत आधारित पेयजल परियोजनाओं के लिए जल निगम को 1149 करोड़ रुपए आवंटित किए गए हैं। इससे 36 परियोजनाओं को पूरा किया जाएगा। 

कोई वारदात करते उससे पहले ही निपटा दिया: महदेले

जेल विभाग की चर्चा करते हुए सुश्री महदेले ने कहा कि केंद्रीय जेल भोपाल का सीआईएसएफ से सुरक्षा ऑडिट कराया गया है। अन्य जेलों का भी सुरक्षा ऑडिट कराया गया है। उन्होंने सिमी आतंकवादियों के भागने की घटना के बाद भोपाल जेल की सुरक्षा में हुई चूक को स्वीकार करते हुए कहा कि जो गलती हुई, उसे स्वीकार करने में उन्हें कोई गुरेज नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि जेल से भागने वाले कोई और वारदात को अंजाम देते, उससे पहले ही उनको निपटा दिया। जेल में बंद कैदियों के बीच की जानकारी मिले, इसलिए जेल गुप्तचर शाखा का गठन किया गया है। 17 जेलों को पुनर्घनत्वीकरण योजना के तहत शहर से बाहर बनाया जाएगा। होशंगाबाद के बाद सतना में भी खुला जेल होगा, जहां 25 कैदियों के परिवार रह सकेंगे। मंत्री के जवाब के बाद विभाग से संबंधित अनुदान मांगों को पारित कर दिया गया। 

Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus