• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

एमपी के सवा लाख अतिथि शिक्षकों का बढ़ेगा मानदेय!

By Raj Express | Publish Date: 3/11/2017 11:29:43 AM
एमपी के सवा लाख अतिथि शिक्षकों का बढ़ेगा मानदेय!

भोपाल। अल्प वेतन में काम कर रहे प्रदेश के कोई सवा लाख से अधिक अतिथि शिक्षकों के मानदेय में सरकार वृद्धि करेगी, इससे संबंधित प्रस्ताव लोक शिक्षण संचालनालय ने शासन को भेजा है। अधिकारियों का कहना है कि अगले शिक्षण सत्र से अतिथियों को बढ़ी हुई राशि दी जाएगी। शिक्षामंत्री कुंवर विजय शाह ने भी इस संबंध में शुक्रवार को पूरी स्थिति स्पष्ट की है।

मौजूदा समय में अतिथि शिक्षकों की वर्ग-1 को 4500 रुपए मासिक मानदेय दिया जाता है। जबकि वर्ग 2 को 3500 और 3 को को 2500 रुपए प्रतिमाह के मान से मानदेय दिया जाता है। अब इन्हें अगले शिक्षण सत्र से बढ़ा हुआ मानदेय दिया जाएगा। लोक शिक्षण संचालनालय में अधिकारियों का कहना है कि अतिथि शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि करने के लिए राज्य शासन को प्रस्ताव भेज दिया गया है। यह प्रस्ताव वित्त विभाग में विचाराधीन है। परीक्षण के बाद यह मामला मंत्री परिषद की बैठक में जाएगा, यहां से हरी झंडी मिलने के बाद अगले शिक्षण सत्र से मानदेय में वृद्धि की जाएगी। सरकार की स्वीकृति मिलने के बाद अतिथि शिक्षक वर्ग-1 का मानदेय मासिक 9 हजार होगा। वर्ग-2 का 7 और 3 को पांच हजार रुपए मानदेय दिया जाएगा।

अतिथियों का पूरा ख्याल

स्कूल शिक्षामंत्री कुंवर विजय शाह ने शुक्रवार को विधानसभा परिसर में मीडिया से चर्चा में कहा कि सरकार अतिथि शिक्षकों का पूरा ख्याल रख रही है। उन्होंने बताया कि इन शिक्षकों की सरकार को पूरी चिंता है। इस कारण पिछले माह हमने स्वयं अफसरों को निर्देश दिए थे कि अतिथि शिक्षकों के मानदेय में वृद्धि होना चाहिए। उन्होंने बताया कि स्कूली शिक्षा का गुणात्मक विकास करने के लिए हर पहलुओं का ध्यान रखा जा रहा है, ताकि सभी वर्गो के बच्चों को बेहतर शिक्षा दी जा सके।

पीएस से मिला प्रतिनिधिमंडल

अतिथि शिक्षक संघ के एक प्रतिनिधिमंडल ने शुक्रवार की दोपहर शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव दीप्ति गौड़ मुकर्जी से मुलाकात की। संघ के प्रांताध्यक्ष मनोज मिश्रा ने बताया कि प्रमुख सचिव से 20 मिनट चर्चा हुई। उन्होंने भरोसा दिलाया कि शासन से अनुमति मिलने के बाद अगले शिक्षण सत्र से अतिथियों के मानदेय में वृद्धि करेंगे। प्रतिनिधिमंडल में अजयपाल राठौर, मुकेश रघुवंशी, सादिक खान, केसी पवार सहित अन्य लोग शामिल थे। इन्होंने बताया कि भारतीय मजदूर संघ एवं कर्मचारी कल्याण समिति ने भी अतिथियों का मानदेय बढ़ाने के लिए कई बार सीएम के समक्ष पक्ष रखा।

Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus