• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

वन मंत्री ने किया जन जागरूकता अभियान का शुभारंभ

By Raj Express | Publish Date: 3/20/2017 3:17:00 PM
वन मंत्री ने किया जन जागरूकता अभियान का शुभारंभ
भोपाल। वन, जल और नर्मदा की उपयोगिता भोपालवासियों को समझाते हुए उसकी धारा अविरल और निर्मल बनाए रखने के लिए जैव विविधता बोर्ड का यह प्रयास सराहनीय है। वन मंत्री डॉ गौरीशंकर शेजवार ने यह बात रविवार को यहां टीटी नगर स्टेडियम में जल, वन, नर्मदा, भोपाल के परिवेश में समग्र शासन अवधारणा के तहत हुई रैली निबंध एवं चित्रकला प्रतियोगिता का शुभारंभ करते हुए कही। वन मंत्री ने झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। रैली में स्कूल, कॉलेज के छात्र.छात्ऱएं स्वयंसेवी संगठन, विभिन्न शासकीय विभागों के अधिकारी.कर्मचारी और आम लोगों ने भाग लिया। अपर मुख्य सचिव वन दीपक खाण्डेकर, वन बल प्रमुख अनिमेष शुक्ला, प्रधान मुख्य वन संक्षरक ; वन्य.प्राणी, जितेन्द्र अग्रवाल और वन विकास निगम के प्रबंध संचालक रवि श्रीवास्तव भी मौजूद थे। डॉ शेजवार ने कहा कि आज नर्मदा जल को अविरल और निर्मल बनाने की यात्र विश्व का सबसे बड़ा नदी बचाव अभियान बन गई है। यह बहुआयामी और परिणाममूलक यात्र है। नर्मदा तटों पर एक किलोमीटर तक पौध.रोपण जल संवर्धन करेगा। तट पर बसे गाँवों को खुले में शौचमुक्त किया जा रहा है। दो साल में सभी जगह सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट तैयार हो जाएंगे।
यात्र ने लोगों को किया जागरूक 
वन मंत्री ने कहा कि यात्र से लोगों में जागरूकता आई है। लोगों ने नदी में कचरा बहाना.पुष्पादि विसर्जन काफी कम कर दिया है। शव बहाना रोकने के लिए मुक्तिधाम और अस्थि.विसर्जन के लिए सेवा कुंड बनाए जा रहे हैं। सदस्य सचिव जैव विविधता बोर्ड आर श्रीनिवास मूर्ति ने कहा कि शहरों की आबादी तेजी से बढ़ी है जो 2030 तक 70 प्रतिशत तक बढ़ने की संभावना है। ऐसे में पानी का उपयोग करने वाले लोगों में पानी प्रबंधन विकसित करने और जागरूकता बढ़ाने के लिए रैली की गई है। इस अभियान का मुख्य उददेश्य नर्मदा को अविरल बनाने के काम में समाज और शासन को जोड़ना है।
Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus