• 14 साल की लड़की को बंधक बना 1000 लोगों से बनवाया शारीरिक संबंध
  • प्रशांत भूषण को पीटने वाले को बीजेपी ने बनाया प्रवक्ता
  • राजस्थान: लैंडिंग से पहले बाड़मेर में क्रैश हुआ सुखोई, दोनों पायलट सुरक्षित
  • 'लालू परिवार' हुआ रघुवंश से नाराज, राबड़ी ने बयान को बोला फूहड़
  • गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र को पांचवां प्रांत घोषित करने की तैयारी में पाकिस्तान
  • सिद्धू को मिल सकता है कांग्रेस से झटका, अमरिंदर नहीं चाहते कोई डिप्टी CM
  • लोकसभा में भाजपा सांसदों ने किया पीएम मोदी का स्वागत, लगे 'जयश्री राम' के नारे
  • पंजाब और गोवा विधानसभा चुनावों में मिली हार के बाद आम आदमी पार्टी में फूट के आसार!

होम |

राज्य

नोटों की कमी से लोगों को हो रही परेशानी

By Raj Express | Publish Date: 11/15/2016 5:28:49 PM
नोटों की कमी से लोगों को हो रही परेशानी

वाराणसी। बड़े नोटों के चलन बन्द होने के बाद लगातार छठे दिन मंगलवार को सरकार और बैंक प्रबंधन के तमाम दावों की भद्द पिट गई। सोमवार को कार्तिक पूर्णिमा और गुरूनानक जयन्ती पर अवकाश के बाद खुले बैंकों के बाहर सुबह 6 बजे से ही लाइन लग गई। जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया कतारें बढ़ती गई दोपहर होते-होते यह कतार आधा किलोमीटर से अधिक हो गई। बैंकों के बाहर लगी लम्बी लाइन के सड़क पर पहुंचते ही नीचीबाग चौक बांसफाटक, विजया तिराहा शाकुम्भरी जवाहर नगर लहुराबीर कचहरी पर सड़क भी जाम हो गई। भीड़ में महिलाओं की संख्या भी ज्यादा रही इसके बावजूद महिला पुलिस कर्मी कहीं-कहीं ही दिखीं। सुबह से ही सारे काम धाम छोड़कर लोग पुराने नोट बदलने और रुपये निकालने के लिए कतारों में खड़े हो गये। इसके बाद भी रूपया निकालने में नाकामी हाथ लगी तो उनका गुस्सा-खीझ कभी बैंककर्मियों पर उतरा तो कभी लाइन में खड़े लोगों पर। बैंकों पर सुबह से शाम तक हंगामा और नोकझोंक होती रही। पहड़िया में एसबीआई और पीएनबी के बाहर गुस्साई भीड़ को शांत करने के लिए पुलिस को लाठियां फटकारनी पड़ीं। इसी तरह चितईपुर के बैंक ऑफ बड़ौदा, लंका के सेंट्रल बैंक व एक्सिस बैंक, नेवादा के पंजाब नैशनल बैंक, भेलूपुर के यूनियन बैंक व स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के साथ ही मंडुवाडीह, चांदपुर, लहरतारा, महमूरगंज, रथयात्रा, सिगरा, गोदौलिया, चौक, लहुराबीर, मैदागिन, बुलानाना, कचहरी, अर्दली बाजार, पांडेयपुर सहित शहर के अन्य इलाकों में बैंकों के बाहर उमड़ी भीड़ रुपये जल्दी पाने के लिए हंगामा करती रही। ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकों, डाकघरों पर सुबह से ही लंबी लाइन लगी रही। रोहनिया-मोहनसराय इलाके में बैंकों में दिन भर मारामारी देखने को मिली। दानगंज में भी सर्वर डाउन होने की वजह से परेशानी हुई। लोहता में एसबीआई, बॉब, इलाहाबाद बैंक, काशी गोमती संयुत ग्रामीण बैंक सहित अन्य बैंकों पर पैसा बदलने-जमा करने के लिए भीड़ लगी रही। समय से पैसा न मिलने की वजह से दूध-सब्जी और दवा खरीदने के लिए परेशानी झेलनी पड़ रही है। बैंकों पर सुबह छह बजे से ही भीड़ उमड़ रही है लेकिन किसी को चार तो किसी को छह घंटे बाद पैसा मिल पा रहा है। अपने घर से दूर बीएचयू के विभिन्न छात्रावासों में रह रहे छात्र-छात्राएं भी लंका चौराहे पर एटीएम कार्ड लेकर भटक रहे हैं। महिला महाविद्यालय में बीए दूसरे वर्ष की छात्रा बिहार गया निवासिनी छात्रा जया सिंह कुमुद सक्सेना, श्रुति गुप्ता ने बताया कि हमारे पास पैसे खत्म हो गए हैं। जो दोस्त यहीं के हैं उनसे भी मदद मांगने में अजीब लग रहा है क्योंकि फुटकर की समस्या से वे भी जूझ रहे हैं। 

Contact us: contact@rajexpress.com
Copyright © 2016 RajExpress.com. All Rights Reserved.
Designed by : 4C Plus