युवा इनर्जी को पावर में करें चेनेलाइज: परशुराम....*राजधानी में जारी है चोरों की धमाचौकड़ी....*जीडीए की महादजी नगर योजना में मिलेंगे गरीबों को...*निशा के नृत्य से दर्शक हुए मुग्ध.....*भोज यूनिवर्सिटी के गार्ड को वाहन ने कुचला.....*डबरा स्टेशन पर यात्री सुविधाएं व गाड़ी रोकने की...*बजट बुकिंग के लिए 30 तक का मौका....*छात्र-छात्रओं की सुरक्षा के लिए बस संचालकों को ...*अधिकारियों ने ग्रामीणों को पांच दिन में शौचालय....*मंत्री ने बच्चों के बीच मनाया आनंद....*
प्रणव ने किया बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट का उद्घाटन
सोशल मीडिया के सुल्तान बने मोदी
प्रियंका ने दूसरी बार जीता''पीपुल्स चॉइस अवार्ड''
महिला क्रिकेट की पूर्व कप्तान हेहो फिंलट का निधन
मुख्यपृष्ठ राष्ट्रीय विश्व शहर  व्यापार खेल मनोरंजन शिक्षा सम्पादकीय क्लासिफाइड Appointment पत्रिकाएँ आज का पंचांग
ट्रंप ने चुनाव में रूस के हैकिंग की बात स्वीकारी
On 1/9/2017 4:55:33 PM

Change font size:A | A

Print

E-mail

Comments

Rating

Bookmark

वाशिंगटन।अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी खुफिया एजेंसी की इस रिपोर्ट को मान लिया है जिसमें बताया गया था कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान साइबर हमले में रूस का हाथ था। इस संबंध में वह कोई कार्रवाई कर सकते हैं। चीफ ऑफ स्टाफ रिंस प्रिबस ने कहा है कि श्री ट्रंप का यह मानना हैं कि डेमोक्रेटिक पार्टी संगठन को निर्देश देने के पीछे रूस का हाथ है लेकिन प्रिबस ने यह स्पष्ट नहीं किया कि क्या श्री ट्रंप इस बात पर सहमत हैं कि हैंकिग का निर्देश देने के पीछे रूस के राष्ट्रपति व्लादीमीर पुतिन का हाथ था। प्रीबुस ने कल फोक्स न्यूज संडे को बताया श्र्इस विशेष मामले के साथ रूस का नाम पहले से जुड़ा था इसलिये यह मुद्दा नहीं है।ऐसा पहली बार हुआ है कि रिपब्लिकन नव निर्वाचित राष्ट्रपति की टीम के एक वरिष्ठ सदस्य ने यह बात स्वीकार की है कि श्री ट्रंप यह मानते हैं कि रूस ने 2016में राष्ट्रपति पद के चुनाव के दौरान डेमोक्रेटिक उम्मीदवारों के ईमेल के हैकिंग के निर्देश दिये थे जिसे बाद में उजागर किया गया था। श्री ट्रंप अब तक इस बात से इंकार करते रहें हैं कि हैंकिंग के पीछे रूस का हाथ है या रूस ने उन्हें जिताने में किसी भी तरह की मदद की है। आगामी 20 जनवरी को राष्ट्रपति पद की शपथ लेने से पहले श्री ट्रंप पर रिपब्लिकन पार्टी की ओर से यह दबाव बढ़ता जा रहा है कि वह खुफिया एजेंसी के इस दावे को स्वीकार करे कि आठ नवंबर को हुये चुनाव को प्रभावित करने के लिये रूस ने हैकिंग या किसी भी तरह की अन्य मदद की थी। गत सप्ताह अमेरिकी खुफिया एजेंसी की रिपोर्ट में यह बात सामने आयी थी कि श्री पुतिन ने डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन को हराने और श्री ट्रंप को सहयोग करने के लिये साइबर हमले के निर्देश दिये थे।

Post Comments
More News
दमिश्क के निकट विस्फोट में आ...
ओबामा ने खुफिया विश्लेषक चेल...
जांबिया में आपातकाल की घोषणा...
मैनुअल को थप्पड़ मारने के प्...
ओबामा प्रशासन ट्रंप को कमजोर...
लापता मलेशियाई विमान की खोज ...
चीन से स्वतंत्रता की संभावना...
सीरिया के अल-बाब में अमेरिका...
राष्ट्रपति असेंबली तीन महीन...
माली के सैन्य शिविर में कार ...
सैन्य कर्मियों के विरोध में ...
पूर्व राष्ट्रपति जार्ज बुश अ...
गरीब देशों में असाध्य रोगों ...
इटली में भूकंप के झटके...
शांति के लिये जर्मनी,फ्रांस ...
आइवरी कोस्ट के सैन पेड्रो मे...
माली धमाका फ्रांस का साथ देन...
सीरिया में 12 लोगों की हत्य...
आग लगने से एक मंजिल गिरी ,38...
कार की चपेट में आने से 3 की ...
सीरिया में हवाई हमले में 40 ...
आतंकवादी ग्रुप ने ली माली हम...
चीन ने परमाणु हथियार मुक्त व...
जार्ज बुश तथा उनकी पत्नी अस्...
ओबामा ने कहा ट्रम्प रूस प्रत...
पाकिस्तान में खेलना सुरक्षित...
इटली में भूकंप के बाद भूस्खल...
सोलोमन द्वीप में भूकंप के झट...
25 जनवरी से अमेरिका के मंत्र...
अमेरिका में आज से शुरू होगा ...
आईएस से जुड़ने पर अमेरिका ना...
हिमस्खलन से लापता 30 लोगों ...
सीरियाई शांति को लेकर रूस का...
लंदन का टॉवर ब्रिज ट्रम्प वि...
 सम्पर्क करें  विज्ञापन दरें आपके सुझाव संस्थान
© Copyright of Rajexpess 2009,all right reserved.
Developed & Designed By: