प्रणव ने झालदा सत्यभामा विद्यापीठ के शताब्दी समा..*देवरिया में महिला का शव बरामद होने से हडकंप*उम्मीदवारी के लिए नारायण साई ने मांगी जमानत*मार्च तक राशन दुकानों में कैशलेस सुविधा*टाइगर जिंदा रहेंगे, तो हम जिंदा रहेंगे : राजे.....*पांच राज्यों में 80 करोड़ रुपये से अधिक जब्त*झारखंड गठन के लिये 200 करोड़ रपये की मंजूरी*आग लगने से एक मंजिल गिरी ,38 झुलसे*भाजपा, आप के कई नेता कांग्रेस में शामिल....*भारत ने बनाया नया विश्व रिकार्ड...*
प्रियंका ने दूसरी बार जीता''पीपुल्स चॉइस अवार्ड''
महिला क्रिकेट की पूर्व कप्तान हेहो फिंलट का निधन
‘हॉल ऑफ फेम’ क्लब में शामिल हुए कपिल देव
शीना बोरा मर्डर इंद्राणी, पीटर मुखर्जी पर हत्या के आरोप तय
मुख्यपृष्ठ राष्ट्रीय विश्व शहर  व्यापार खेल मनोरंजन शिक्षा सम्पादकीय क्लासिफाइड Appointment पत्रिकाएँ आज का पंचांग
उद्योग में उत्पादन घटा रोजगार पर सकंट बढ़ा
On 1/12/2017 11:31:22 AM

Change font size:A | A

Print

E-mail

Comments

Rating

Bookmark

इंदौर। देश में आठ नंवबर के बाद नोटबंदी का असर विभिन्न रूपों में दिखाई दिया है। आम लोगों की जेब में नगदी संकट के बाद डिजीटल मनी ने सहारा दिया है। लेकिन उद्योगों पर इसका असर अब दिखाई देने लगा है। बड़ी संख्या में उत्पादन करने वाली कंपनियों ने अब अपने स्टॉफ को छुटियां देना प्रारंभ कर दिया है। नोटबंदी का असर भविष्य में भी दिखाई देगा। इस संबध में उद्योगों से जुडे लोगों से चर्चा की तो उनका मानना है कि उद्योगों को नए आर्डर मिलने में 50 प्रतिशत, फंड की कमी 80 प्रतिशत की कमी आई है,वही बेरोजगारी संकट 60प्रतिशत बढ़ गया है। पुराने नोटों को बदलने का समय 30दिसंबर को खत्म होने के बाद अब उद्योग जगत स्वंय का आंकलन करने में लगा हुआ है। बीते दो माह परेशानी झेलने के बाद उद्योग जगत ने भी माना है कि परेशानी अभी खत्म नहीं होने वाली है। उद्योग में निर्माता और कर्मचारी के साथ व्यापारी भी प्रभावित हो रहे है। इस संबध में एसोसिएशन ऑफ इंडस्ट्रीज मध्यप्रदेश के सचिव योगेश मेहता का कहना है कि नोटबंदी के बाद उद्योगों के बीच बेरोजगारी बढ़ी है और रोजगार की कमी हुई है। कारखानों में नए आर्डर भी कम हुए है लेकिन इसमें जल्दी ही सुधार हो सकता है। नगदी की कमी पर उन्होंने माना की इससे सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ रहा है।वरिष्ठ उद्योगपति संजय पटवर्धन ने नोटबंदी पर कहा कि नगदी संकट और नए आर्डरों की कमी के चलते उद्योगों को अघोषित बंदी का रूख करना पड़ रहा है। ऐसे में छोटी कंपनियों से अधिक बड़ी कंपनियां प्रभावित हो रही है। मजदूरों और ठेका श्रमिकों को इसका सीधा असर आया है। वही नगदी संकट का असर कच्चे बिल में काम करने वाले उद्योगों पर ज्यादा दिखाई दे रहा है। उद्योगपति पटवर्धन ने इस बात के लिए चेताया कि नोटबंदी के बाद वर्तमान असर के बाद नया दौर आएगा जिसमें आईटी उद्योग आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की ओर बढ़ने लगेगा। जिससे आईटी इंडस्ट्रीज भी स्टॉफ कम कर अपने खर्च करेंगी। वही लेबर बेस्ट इंडस्ट्रीज अब रोबोटिक की दिशा में आए आएगी। यह भी बेरोगजारी बढ़ाने वाला कदम होगा।

Post Comments
More News
रात में गरीब , दिन में बन जा...
जल्द शुरू होगा दोहरीकरण का क...
गणोशगंज क्षेत्र में चलेगी अत...
प्रांतों की झलक.....
अंतिम संस्कार के सामान पर भी...
संजीवनी एक कदम जीवन की ओर शु...
अगले माह हटाए जाएंगे माडय़ूलर...
नाबालिग से ज्यादती करने वाले...
बुजुर्गो के लिए नई सेवा नेबर...
नि:शुल्क खून का बीमा करवा सक...
नगर निगम ने फिर की बकायादारो...
5 करोड़ की प्रापर्टी के लिए ...
चार करोड़ की लागत से बना जैव...
मालवी लोकगीत की पुस्तक का लो...
200 गृह निर्माण संस्थाओं में...
बच्चों का वादा, साल भर तक कर...
29 गांवों के विकास शुल्क मे...
एसआई ने सूझबूझ से ढूंढ निकाल...
संक्रांति पर भजन संध्या का आ...
नि:शुल्क स्वास्थ्य शिविर का ...
गलत दिखे तो सहन न करें, नो क...
भगवान से जब भी मांगे, निर्मल...
हम जानबूझकर मरीजों को नहीं र...
रोग ही नही, कारणों की भी मिल...
15 के बाद हो सकती है बसों की...
कांग्रेस-आप का हल्ला बोल...
नानगुरु के बेटे को दिन दहाड़...
रहने की जगह नहीं और खरीद लेत...
आगाज-2017 में मिले खिताब...
200 करोड़ का हवाला कारोबार स...
चीन भेजा 24 टन कॉटन यार्न गा...
कचरे में आग लगने से क्षेत्र ...
आरटीओ की कम स्टॉफ के बावजूद ...
25 जनवरी तक चलाएं विशेष सुरक...
डमरू के जोर पर बिजली कंपनी न...
बड़वानी: आदिवासी महिला ने एक...
कुएं में डूबने से बुजुर्ग की...
छुट्टियों के लिए चलेंगी स्पे...
अभिभावक बढ़ाई फीस का करेंगे ...
धोखा खाए छात्र ने प्रेमिका प...
मुंहबोले भाई ने दी जान से मा...
दंपति ने महिला को पीटा, भतीज...
निर्दोष उद्योगपति की गिरफ्ता...
विचार और कार्यकर्ता भाव हमार...
लगेगा डिजीधन मेला, वित्तीय-व...
धरोहर मार्ग पर पार्किग, सब्ज...
केन्द्र की ओर से अब तक नहीं...
नोटबंदी के बाद छोटे अपराधों ...
सुखलिया के दंपतिने जनसुनवाई ...
सुपर स्पेशलिटी में फंसा कार्...
पहली बार शहर में हुआ लिवर ट्...
किसानों के दर्द को बयान करती...
पहली बार नि:शुल्क ऑनलाइन टेस...
रहवासियों की सतर्कता से दबोच...
ऑटो में भागे चोर गैंग के सदस...
फैशन डिजाइनिंग की छात्र ने ख...
बकायादारों की दुकानें सील कर...
जरूरतमंदों के लिए दो रोटी हम...
छह हजार लीटर छाछ से किया मिट...
कांग्रेस नेताओं ने किया गांव...
भारतीय ट्रेडिशन और फैशन की ख...
खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के ...
 सम्पर्क करें  विज्ञापन दरें आपके सुझाव संस्थान
© Copyright of Rajexpess 2009,all right reserved.
Developed & Designed By: